पड़ोसन चाची चूत चुदाकर माल बनी

वो एक दिन सारिका और हम तीनों को घुमाने ले गया। सारिका का पति उस समय बाहर गया हुआ था। उस दिन काफ़ी रात हो गयी थी। हम सब अपनी वैन में ही थे।

सारिका तो कार पर ही बैठे बैठे सो गयी थी। उसका पल्लू नीचा हो गया और डीप गला होना के कारण सारिका का आधा मोमा नज़र आने लगा। स्पीड ब्रेकर पर तो वो 75% बाहर आ जाता था। वरुण से रहा नहीं गया, उसने गाड़ी बहुत सुनसान जगह पर खड़ी कर दी। वरुण सारिका का मोमा चूसना लग गया।
सारिका चिल्लायी- ये क्या रहा है?
वरुण बोला- अपनी भूख मिटा रहा हूँ।
वो बोली- प्लीज ऐसा मत करो… मेरा पति को पता चल गया तो?
वरुण बोला- यार टेन्शन मत ले… उसे पता नहीं चलेगा।
आह बोलकर वरुण सारिका का मोटा मोटा मोमा चूसने लगा।

धीरे धीरे सारिका को मज़ा आने लगा।

फिर क्या था राहुल भी आ गया। उसका चिकना चिकना मोमा चूसने का कारण बहुत मोटा हो गया था। फिर हमने उसको पूरी नंगी कर दिया। नंगी औरत मैंने पहली बार देखी थी।
वरुण ने सारिका के मुंह में अपना लंड डाला। सारिका को लण्ड चूसना नहीं आता था।
फिर वरुण ने उसे ‘लंड कैसे चूसते हैं’ ये सिखाया।

फिर राहुल ने सारिका की चूत में अपना लण्ड डाला और जोर जोर से सारिका की चूत चुदाई करने लगा। सारिका की चूत इतनी नहीं खुली हुई थी। चूत मारते समय राहुल का पूरा सर हिल रहा था। राहुल का लण्ड झड़ने को हुआ और माल उसकी चूत में ही निकाल दिया।
फिर सारिका को वरुण ने चोदा। ये सब 3 बजे तक चलता रहा। सारिका की वासना पूरी मिट चुकी थी।

उसको अब उसे लण्ड खाने की लत लग गयी थी।

अगले दिन वरुण ने सारिका की गाण्ड भी मारी। अब तो वो रोज ही पांच घण्टा चुदाती थी।

एक महीने बाद सारिका का बदन पूरा भर कर मस्त दिखने लगा था। उसकी गाण्ड पूरी भर कर गोलाई में आ गयी थी। उसकी चूचियां मोटी होकर अब बहुत बाहर आ गयी थी। अब वो बहुत मस्त दिखने लगी थी।
मेरे पास सारिका की कई नंगी फोटो हैं।